ह‍िमाचल प्रदेश में एक गांव ऐसा भी है, जहां दीपावली का पर्व नहीं मनाया जाता। कांगड़ा जिला के धीरा उपमंडल के सुलह के साथ लगती सिहोटु पंचायत के गांव अटियाला दाई में दीपावली का पर्व नहीं मानाया जाता है। यहां अंगारिया जाति के  परिवार रहते हैं। ये लोग एक बुजुर्ग के वचन का सम्मान करते हुए कई सालों से दीवाली के दिन किसी उत्सव का आयोजन नहीं करते।  Ref.A06

ह‍िमाचल प्रदेश के जनजातीय जिला लाहुल स्पीति में दिवाली नहीं मनाई जाती। लाहुल स्पीति के अलावा कुल्लू की उझी घाटी में भी दिवाली का त्‍योहार नहीं मनाया जाता है। यहां दिवाली के बजाय दिसंबर में ‘दियाली’ त्योहार मनाया जाता है।दियाली उत्सव दिसंबर महीने में सृष्टि के रचयिता मनु महाराज के प्रांगण से शुरू होगा और पूरी घाटी में मनाया जाएगा। Ref.06J

हिमाचल सरकार ने प्रदेश में 328 दवाइयों के उत्पादन व बिक्री पर रोक लगा दी है। यह निर्णय ड्रग्स तकनीकी सलाहकार बोर्ड (डीटीएबी) की सिफारिश पर लिया गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा 328 दवाइयों पर रोक लगाने के बाद हिमाचल सरकार ने प्रदेश की सभी दवा निर्माता कंपनियों को इन दवाओं का उत्पादन न करने के आदेश जारी कर दिए हैंl Ref.J

Leave a Reply

Your email address will not be published.