देश के सभी जवाहर नवोदय विद्यालयों में संस्कृत को ऐच्छिक विषय के रूप में शामिल कर लिया गया है। नवोदय विद्यालय समिति के प्रस्ताव को मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने मंजूरी प्रदान कर दी है। इसे आगामी सत्र से प्रत्येक स्कूल में शुरू कर दिया जाएगा। देश में इस समय 600 के करीब नवोदय विद्यालय संचालित हैं। अब प्रदेश के सभी 12 स्कूलों में संस्कृत पढ़ने के इच्छुक विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं।

 भ्रष्टाचार में संलिप्त अधिकारियों की संवेदनशील पदों पर तैनाती के मामले में प्रदेश हाई कोर्ट ने हिमाचल सरकार को आदेश दिए हैं कि वह इस तरह की पालिसी बनाए, जिससे ऐसे अधिकारियों को संवेदनशील पदों पर तैनात न किया जाए। मुख्य न्यायाधीश सूर्या कांत और न्यायाधीश अजय मोहन गोयल की खंडपीठ ने राज्य सरकार को आदेश दिए कि वह भ्रष्टाचार में संलिप्त उन अधिकारियों को सेवानिवृत्त किए जाने के बारे में संभावनाएं तलाशे, जो भ्रष्टाचार में संलिप्त होने के कारण राज्य सरकार के लिए बोझ हैं।

बिलासपुर की बंदलाधार पर बनने जा रहा देश का दूसरा और हिमाचल का पहला राजकीय हाइड्रो इंजीनियरिंग कालेज वर्ष 2020 में बनकर तैयार हो जाएगा। इसकी देखरेख कर रही नेशनल प्रोजेक्ट्स कंस्ट्रक्शन कारपोरेशन (NPCC) लिमिटेड ने बंदला में चयनित जमीन पर कालेज भवन एवं अन्य आधारभूत ढांचा विकसित करने के लिए चेन्नई की टीएसके (TSK) इंजीनियरिंग कंस्ट्रक्शन कंपनी को जिम्मा सौंपा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *