इस साल बरसाती नुकसान की वजह से ट्राउट बीज में कमी को जम्मू-कश्मीर पूरा करेगा। मत्स्य विभाग जे एंड के से पांच लाख ट्राउट बीज (मछली की आईडोबा स्टेज) आयात कर रहा हैI जे एंड के से पांच लाख ट्राउट बीज मंगवाया गया है, जिसमें से कुल्लू के हामनी में 3.50 लाख और चंबा जिला के होली फार्म में 1.50 लाख ट्राउट बीज भेजा जाएगाI

बायोटेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट साइंस यूनिवर्सिटी शूलिनी की प्रोफेसर डा. रीना सैणी ने संतरे व सेब के पाउडर और हिमालय पर्वत से प्राप्त कुछ जड़ी-बूटियों के जैल से ऐसे कंपाउंड पैक्टिन और गौरगम निकाले हैं, जो कैंसर के इलाज में कारगर हैं।  विवि की लैब में विशेषज्ञों ने कंपाउंड से तैयार नैनो पार्टिकल (कण) को कैंसर सेल के बीच छोड़ा। मानव शरीर में जब कैंसर बढ़ता है, तो शरीर के टीएच वन टाइप सेल कैंसर से लड़ते हैं और टीएच टू टाइप सेल कैंसर सेल की मदद करते हैं। शोध में पता चला कि नैनो पार्टिकल ने टाइप वन सेल को 70 फीसद तक मजबूत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.