15वें वित्त आयोग द्वारा हिमाचल प्रदेश को वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए कितने रुपए देने की सिफारिश की है – 19,309 करोड रुपए

हिमाचल प्रदेश विधानसभा में विपक्षी दल के नेता है – मुकेश अग्निहोत्री

वित्त वर्ष 2020-21 के लिए हिमाचल प्रदेश की योजना का आकार कितने करोड़ का होगा – 7900 करोड़ (वित्त वर्ष 2019-20 की तुलना में 800 करोड़ पर अधिक है)

अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि मेले की अगुवाई किसके द्वारा की जाती है – राज देवता माधवराव

वित्त आयोग की सिफारिश के आधार पर हिमाचल प्रदेश को प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए कितने करोड़ रुपए अतिरिक्त राशि मुहैया करवाई जाएगी – 167 करोड

एनआईआरएफ द्वारा जारी किए आंकड़ों में आईआईटी मंडी को प्रदेश के नंबर वन इंजिनियरिंग संस्थान का दर्जा किया है।

आईआईटी के निदेशक – प्रो. टिमोथी गोंसाल्वेस

IIT मंडी की स्थापना वर्ष 2009 में हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *